Sarkari Job, Sarkari Result, Sarkari result up, Sarkari Exam

UP News 2024: यूपी के किसानों के लिए खुशखबरी इतने बढ़ जाएंगे गन्ने के रेट जल्दी जानें यहाँ से

UP News 2024: यूपी के किसानों के लिए खुशखबरी इतने बढ़ जाएंगे गन्ने के रेट जल्दी जानें यहाँ से

यूपी के किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी दरअसल एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक आपको बता दें कि पेराई सत्र 2023-24 के लिए गन्ना मूल्य निर्धारण पर उच्च स्तरीय सहमति बन गई है जल्द ही राज्य सरकार राज्य सलाहित मूल्य की घोषणा करेगी जिससे गन्ने की कीमत इतनी बढ़ जाएगी

पेराई सत्र 2023-24 के लिए गन्ना मूल्य निर्धारण पर उच्च स्तरीय सहमति बन गई है, जल्द ही राज्य सरकार राज्य सलाहित मूल्य (एसएपी) की घोषणा करेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के व्यस्त कार्यक्रम को देखते हुए इस प्रस्ताव को कैबिनेट बाई सर्कुलेशन के जरिए ही मंजूरी दी जा सकती है।

वर्तमान में गन्ने की कीमत है

आपको बता दें कि वर्तमान में गन्ने की कीमत अगेती प्रजाति के लिए 350 रुपये प्रति क्विंटल सामान्य प्रजाति के लिए 340 रुपये और अस्वीकृत प्रजाति के लिए 335 रुपये प्रति क्विंटल है. सभी श्रेणियों में 20-30 रुपये प्रति क्विंटल तक की बढ़ोतरी की संभावना है राज्य सरकार ने वर्ष 2021 में गन्ने की कीमत में 25 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की थी

Sugarcane Rate
Sugarcane Rate

गन्ना किसान ये मांग कर रहे हैं

पिछले साल भी किसान संगठनों की मांग के बावजूद राज्य सरकार ने कीमतें नहीं बढ़ाई थीं गन्ना किसान पिछले साल से राज्य सरकार से गन्ना मूल्य 50 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाने की मांग कर रहे हैं

चालू पेराई सत्र में राज्य सरकार द्वारा बढ़ाए गए गन्ना मूल्य का अंतर बाद में किसानों को अलग से दिया जाएगा जो किसान अपना गन्ना चीनी मिलों को दे रहे हैं उन्हें पिछले पेराई सत्र के अनुसार गन्ना मूल्य का भुगतान किया जा रहा है साथ ही भुगतान पर्ची पर लिखा जा रहा है राज्य सरकार द्वारा निर्धारित गन्ना मूल्य के अनुसार किसान अब सरकार द्वारा गन्ना मूल्य बढ़ाए जाने का इंतजार कर रहे हैं

प्रदेश में पेराई सत्र ने गति पकड़ ली है

गन्ना विभाग के आंकड़ों के मुताबिक 10 जनवरी तक उत्तर प्रदेश में 390.79 लाख टन गन्ने की पेराई हो चुकी है अब तक 38.16 लाख टन चीनी का उत्पादन हो चुका है उत्तर प्रदेश में इस सीजन में चीनी का उत्पादन 110 लाख टन होने का अनुमान है गन्ना विभाग के मुताबिक, राज्य में धान के गन्ने की पेराई अंतिम चरण में है और अब तक किसानों को बेसिक मोड की 48,379,436 पर्चियां जारी की जा चुकी हैं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सख्त निर्देश और गन्ना मंत्री चौधरी लक्ष्मीनारायण की निगरानी के चलते इस पेराई सत्र में गन्ने की आपूर्ति के बाद मिलें किसानों को तेजी से भुगतान कर रही हैं। वर्तमान पेराई सत्र के आगमन के साथ ही गन्ना विभाग यह सुनिश्चित कर रहा है कि इस बार गन्ना भुगतान सुचारु रूप से हो और किसानों को समय पर भुगतान हो।

किसानों में असमंजस की स्थिति है कि क्या राज्य सरकार इस बार गन्ना मूल्य बढ़ाएगी या नहीं यदि हां तो कितना दूसरी ओर कमजोर फसल के बावजूद महाराष्ट्र चीनी उत्पादन के मामले में अभी भी अग्रणी है। महाराष्ट्र चीनी आयुक्तालय के आंकड़ों के मुताबिक सीजन 2023-24 में 7 जनवरी 2024 तक महाराष्ट्र में 483.2 लाख टन गन्ने की पेराई हो चुकी है राज्य में अब तक लगभग 439.86 लाख क्विंटल (43.98 लाख टन) चीनी का उत्पादन किया जा चुका है

गन्ने का मूल्य 400 रुपये प्रति क्विंटल किया जाएगा

उत्तर प्रदेश सहकारी गन्ना समिति संघ लिमिटेड की पूर्व निदेशक गन्ना मंजू सिंह ने प्रदेश के गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग मंत्री को पत्र लिखकर मांग की है कि इस बार गन्ने का राज्य परामर्शी मूल्य 400 रुपये प्रति क्विंटल तय किया जाए पत्र में उन्होंने कहा है कि इस बार किसानों की गन्ना उत्पादन लागत करीब 30 फीसदी बढ़ गयी है सिंचाई, बुआई, कटाई, परिवहन आदि विभिन्न मदों की दरों में काफी वृद्धि हुई है। इसके अलावा चीनी मिलों को भी इस बार बाजार में चीनी के अच्छे दाम मिले हैं अतः किसानों के व्यापक हितों को ध्यान में रखते हुए चालू पेराई सत्र में गन्ना मूल्य 400 रूपये प्रति कुन्तल घोषित किया जाना चाहिए

 

 

Leave a Comment

Join Telegram