Sarkari Job, Sarkari Result, Sarkari result up, Sarkari Exam

PM Kisan 16th Installment 2024: किसानों के खाते में कब आएगी पीएम किसान की 2,000 रुपये की 16वी क़िस्त राशि जानकारी चेक करेंगे ऐसे

PM Kisan 16th Installment 2024: किसानों के खाते में कब आएगी पीएम किसान की 2,000 रुपये की 16वी क़िस्त राशि जानकारी चेक करेंगे ऐसे

पीएम किसान सम्मान योजना की 15 किस्तें किसानों के बैंक खातों में ट्रांसफर कर दी गई हैं। किसान 16वीं किस्त का इंतजार कर रहे हैं प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की 16वीं किस्त अगले महीने मार्च 2024 में किसानों के बैंक खातों में स्थानांतरित करने की तैयारी है कोई भी व्यक्ति pmkisan.gov.in पर लॉग इन करके पीएम किसान 16वीं लाभार्थी सूची 2024 में अपना नाम देख सकता है। सभी किसान वेबसाइट पर लॉग इन करके पीएम किसान 2024 की 16वीं किस्त के ट्रांसफर की स्थिति की जांच कर सकते हैं

किसानों के पास अभी भी ई-केवाईसी कराने का समय है

सरकार लगातार किसानों को ई-केवाईसी कराने के लिए जागरूक कर रही है इसके बाद भी किसान इस महत्वपूर्ण कार्य को पूरा नहीं कर पाते हैं जिसके कारण उनका नाम लाभार्थियों की सूची से हटा दिया जाता है और प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की राशि उनके खाते में नहीं पहुंचती है

केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का जिक्र होगा तो उसमें प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का नाम जरूर शामिल होगा आज देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के किसान इस बात से भली-भांति परिचित हैं कि पीएम किसान सम्मान निधि योजना क्या है। लेकिन कई किसान इस योजना के लाभ से वंचित रह जाते हैं. इसका कारण यह है कि कई बार स्कीम में कुछ बदलाव कर दिए जाते हैं और कुछ नियमों का पालन करना जरूरी हो जाता है इसी तरह पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ लेने के लिए ई-केवाईसी कराना जरूरी हो गया है अगर आप इसे नहीं कराएंगे तो आप इसका लाभ नहीं उठा पाएंगे

ज्यादातर लोग समय की कमी या सुविधाओं की कमी के कारण समय पर ई-केवाईसी नहीं करा पाते हैं ऐसे किसानों की इस समस्या को ध्यान में रखते हुए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है अब आपको e-KYC के लिए भटकने की जरूरत नहीं है

PM Kisan Yojana 2024
PM Kisan Yojana 2024

गांव में ई-केवाईसी कैंप लगाया जाएगा

सरकार लगातार किसानों को ई-केवाईसी कराने के लिए जागरूक कर रही है. इसके बाद भी किसान इस महत्वपूर्ण कार्य को पूरा नहीं कर पाते हैं जिसके कारण उनका नाम लाभार्थियों की सूची से हटा दिया जाता है और प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की राशि उनके खाते में नहीं पहुंचती है ई-केवाईसी को पूरा करने के लिए कृषि मंत्रालय ने अब 10 दिनों का एक विशेष कार्यक्रम आयोजित किया है जिसके तहत हर गांव में ई-केवाईसी शिविर आयोजित किए जाएंगे

कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय ने राज्यों को पत्र लिखा है बताया गया है कि देश के 19 राज्यों में पीएमकेएसएनवाई के उन लाभार्थियों के लिए गांव-गांव कैंप लगाए जाएंगे जिन्होंने अभी तक अपना ई-केवाईसी नहीं कराया है

इन राज्यों में 12 फरवरी से 21 फरवरी तक कैंप लगाए जाएंगे

कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी पत्र में 10 दिनों के अंदर कैंप आयोजित करने की जानकारी दी गई है, जिसमें उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक और बिहार समेत देश के 19 राज्यों के नाम शामिल हैं इन राज्यों में 12 फरवरी से 21 फरवरी तक कैंप लगाए जाएंगे

क्या है पीएम किसान योजना

केंद्र सरकार द्वारा किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना चलाई जा रही है इस योजना के तहत किसानों को सालाना छह हजार रुपये किस्तों में दिए जाते हैं इस योजना के तहत अब तक 15 किश्तें जारी की जा चुकी हैं 15वीं किस्त के बाद ज्यादातर किसानों की शिकायत थी कि उनके खाते में पैसा नहीं आया है जवाब में सरकार ने कहा था कि जिन किसानों ने ई-केवाईसी और भूलेख वेरिफिकेशन नहीं कराया था उनकी छंटनी कर दी गई और उनके खातों में पैसे नहीं आए थे ई-केवाईसी कराने के बाद सभी पात्र किसानों को योजना का लाभ मिलता रहेगा

ई-केवाईसी क्यों जरूरी है

केंद्र की मोदी सरकार यह सुनिश्चित करना चाहती है कि पीएम किसान योजना का लाभ बिना किसी बिचौलिए की भागीदारी के किसानों के आधार से जुड़े बैंक खातों तक पहुंचे इसलिए e-KYC को जरूरी माना गया है

किसान eKYC कैसे करा सकते हैं

  • पीएम किसान योजना के किसानों के लिए eKYC के ये हैं तीन तरीके
  • ओटीपी आधारित ई-केवाईसी जो पीएम-किसान पोर्टल और मोबाइल ऐप पर उपलब्ध है।
  • बायोमेट्रिक आधारित ई-केवाईसी कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) और स्टेट सर्विस सेंटर (एसएसके) पर उपलब्ध है।
  • फेस ऑथेंटिकेशन-आधारित ई-केवाईसी पीएम किसान मोबाइल ऐप पर उपलब्ध है।

OTP आधारित e-KYC करने का तरीका

  • ओटीपी आधारित ईकेवाईसी के लिए किसान के पास आधार से जुड़ा एक सक्रिय मोबाइल नंबर होना चाहिए। इसके लिए दो चरण हैं
  • पीएम-किसान पोर्टल https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं ई-केवाईसी पर क्लिक करें जो आपको वेबसाइट के ऊपरी दाएं कोने पर दिखाई देगा
  • अपना आधार नंबर दर्ज करें और अपना ओटीपी सबमिट करने के बाद अपना ईकेवाईसी पूरा करें

बायोमेट्रिक आधारित e-KYC करने का तरीका

  • यह सेवा किसानों को सामान्य सेवा केंद्रों और राज्य सेवा केंद्रों पर प्रदान की जाती है। जानिए प्रक्रिया
  • अपने आधार कार्ड और आधार से जुड़े मोबाइल नंबर के साथ अपने नजदीकी सीएससी/एसएसके पर जाएं।
  • सीएससी/एसएसके ऑपरेटर आधार-आधारित सत्यापन का उपयोग करके बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण करने में किसान की सहायता करता है।

 

Leave a Comment

Join Telegram